भारत और चीन के बीच तनातनी की वजह


Ajit Kumar AJIT KUMARWISDOM IAS, New Delhi.


 
जुलाई 2017

सीमा विवाद के कारण बीते चार सप्ताह से भारत और चीन के बीच तनाव की स्थिति है. दोनों देशों के बीच 3,500 किमोलीटर (2,174 मील) लंबी सीमा है.

मामला तब शुरु हुआ जब भारत ने पठारी क्षेत्र डोकलाम में चीन के सड़क बनाने की कोशिश का विरोध किया. भारत में डोकलाम के नाम से जाने जाने वाले इस इलाके को चीन में डोंगलोंग नाम से जाना जाता है.

ये इलाका वहां है जहां चीन और भारत के उत्तर-पूर्व में मौजूद सिक्किम और भूटान की सीमाएं मिलती हैं. भूटान और चीन दोनों इस इलाके पर अपना दावा करते हैं और भारत भूटान के दावे का समर्थन करता है.

भारत को चिंता है कि इस सड़क का काम पूरा हो गया तो देश के उत्तर पूर्वी राज्यों को देश से जोड़ने वाली 20 किलोमीटर चौड़ी कड़ी यानी मुर्गी की गरदन जैसे इस इलाके पर चीन की पहुंच बढ़ जाएगी. ये वही इलाका है जो भारत को सेवन सिस्टर्स नाम से जानी जाने वाली उत्तर पूर्वी राज्यों से जोड़ता है और सामरिक रूप से बेहद महत्वपूर्ण है.

भारतीय सेना के अधिकारियों ने बताया कि उन्होंने चीन की इस कोशिश का विरोध किया है और यहां पर सड़क बनाने के काम को रोक दिया है, जिस कारण चीनी सेना ने आगे बढ़ कर नज़दीक के लालटेन आउटपोस्ट पर सेना के दो बंकरों को तबाह कर दिया है.

विदेश मंत्रालय ने कहा था "चीन के सड़क बनाने की कोशिश से दोनों देशों के बीच की स्थिति में फ़र्क आएगा और भारत के लिए सुरक्षा संबंधी चिंताएं हो सकती हैं.

चीनी अधिकारियों का दावा है कि सड़क निर्माण का विरोध करके भारतीय सीमा सुरक्षाबलों ने सीमा की दूसरी तरफ़ चीन में "सामान्य गतिविधि" में अड़चन डाली है और उन्होंने भारत से अपनी सेना पीछे हटाने के लिए कहा. चीन ने इस इलाके में अपनी संप्रभुता दोहराई है और कहा है कि सड़क उनके अपने इलाके में बनाई जा रही है. चीन ने भारतीय सेना पर "अतिक्रमण" का आरोप लगाया है.

मामला पर तीखी प्रतिक्रिया देते हुए चीन ने सिक्किम के नाथुला दर्रे से होकर तिब्बत स्थित मानसरोवर तक जाने वाले 57 भारतीय तीर्थयात्रियों को कैलाश मानसरोवर यात्रा के लिए रास्ता देने से इंकार कर दिया.

इस बीच भूटान ने भी चीन से सड़क बनाने के लिए मना किया है और कहा है कि यह दोनों देशों के बीच हुए समझौते का उल्लंघन है. भूटान और चीन में औपचारिक रिश्ते नहीं हैं, लेकिन दिल्ली स्थित अपने मिशन के ज़रिए दोनों देश एक-दूसरे के साथ रिश्ते जारी रखते हैं.



Thursday, 06th Jul 2017, 05:00:49 AM

Add Your Comment:
Post Comment